देश की प्राथमिकता ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों की आय बेहतर करना-राष्ट्रपति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश में कृषि संबंधित व्यवधान को बढ़ावा देने के लिए भारतीय कृषि शोध संस्थान (आईएआरआई) से नवाचार एवं इनक्यूवेशन केंद्र स्थापित करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने पर काम कर रही है। कोविंद ने आईएआरआई के 56 वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि युवा वैज्ञानिकों एवं कृषि स्नातकों को कृषि क्षेत्र में अब भी मौजूद उन संभावनाओं का दोहन करना चाहिए जो अब तक अछूते रहे हैं। उन्होंने देश की खाद्य मामले में आत्मनिर्भर बनाने में आईएआरआई के प्रयासों की सराहना की। राष्ट्रपति ने विद्यार्थियों को बदलाव का वाहक बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि उन्हें कृषि समुदाय के कल्याम में योगदान देना चाहिए। उन्होंने कहा महात्मा गांधी ने कहा था कि कृषि देश की अर्थव्यवस्था का स्तंभ है। देश की प्राथमिकता ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों की आय बेहतर करना है। उन्होंने कहा कि देश 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने पर काम कर रहा है और विद्यार्थियों में इसे प्राप्त करने में योगदान देने की क्षमता है। राष्ट्रपति ने स्नातक पूरा कर रहे विद्यार्थियों को कृषि उद्यमी बनने का सुझाव देते हुए कहा कि उन्हें कृषि क्षेत्र में अपनी कंपनी शुरू करने के लिए मुद्रा जैसी सरकारी योजनाओं का लाभ उठाना चाहिए। राष्ट्रपति ने कहा कि सीमित प्राकृतिक संसाधनों तथा बढ़ती आबादी के मद्देनजर नवाचार पर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा बीज से लेकर बाजार तक नवाचार की काफी संभावनाएं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *