विशेष मुहूर्त के कारण मनचाहे फल की कामना, श्रद्धालुओं का तांता

मकर संक्रांत के अवसर पर श्रद्धालुओं ने गंगा घाटों पर सुबह से ही पुण्य की डुबकी लगाई। भीषण ठंड के बावजूद हरिद्वार की हरकी पौड़, इलाहाबाद में गंगा, यमुना और सरस्वती संगम पटना में गंगा में सुबह से श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। ऐसा माना जा रहा है कि शाम तक करीब एक करोड़ श्रद्धालु गंगा स्नान में डुबकी लगा लेंगे। भारी भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने भी अपने पूरे इंतजाम किए हैं। खासकर इलाहाबाद में 14 और 15 जनवरी को विशेष स्नान के लिए कोने कोने से श्रद्धालु पहुंचे हैं। इलाहाबाद में माघ मेले के मकर संक्रांति स्नान को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने शहर और मेले के लिए विशेष ट्रैफिक नियम लागू किए हैं। इलाहाबाद शहर में बड़े वाहनों के प्रवेश को पहले ही प्रतिबंधित कर दिया गया है।इस खास मौके पर देश भर के साधु संत इलाहाबाद पहुंचे हैं ज्योतिषाचार्य केके शर्मा का कहना है कि कई वर्षों बाद इस बार मकर संक्रांति के दिन विशेष मुहूर्त में दुर्लभ संयोग बन रहा है। केके शर्मा के मुताबिक माघ मेले की मकर संक्रांति में बन रहे संयोग में संगम में स्नान करने में भक्तों को मनचाहे फल की प्राप्ति हो सकेगी।

मकर संक्रांति के मौके पर गंगा सागर में स्नान के लिए देश विदेश से करीब 20 लाख श्रद्धालु सागर द्वीप पर पहले से आ चुके हैं। मकर संक्रांति के मौके पर श्रद्धालुओं की यहां लंबी लाइन लगी हुई है। गौरतलब है कि गंगा सागर में स्नान के लिए नेपाल, भूटान और बांग्लादेश से भी यहां बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। यहां पिछले साल करीब 15 लाख श्रद्धालु आए थे। इस बार की संख्या ज्यादा है विशेष मुहर्त होने के कारण लगातार तांता लगा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *